गुरुवार, जनवरी 22

एक पैघ अन्तराल के बाद अहाँ सभक समक्ष अबैत हमरा अपर हर्ष भ रहल अछि। मैथिलि टाईम्स पत्रिका के अहाँसभक असीम स्नेह आ सहयोग भेटल छल वैह स्नेह शक्ति बनि फेर स हमरा अहाँ के सम्मुख प्रस्तुत केलक अछि। हाँ, ई उपस्थिति अहि रूप में नव जरुर अछि जे आब पत्रिका नहिं अपितु इन्टरनेट ब्लॉग के मध्यम स अपना सभक बीच सम्वाद।

1 टिप्पणी:

subhash ने कहा…

एकटा कहावत छाई ... जहिया जगी ताहने भोर... जरूरती एही बात के जे प्रयास बनल रहे. हमार सुभकामना